Mahashivratri 2018 || महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है

Mahashivratri 2018: नमस्कार दोस्तों TopHunt पर आपका स्वागत है. आज हम आपको Mahashivratri के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले है. हम सब महाशिवरात्रि बड़े भक्ति भाव से मनाते है लेकिन क्या आप जानते है की महाशिवरात्रि का इतना महत्व क्यों है और हम सब महाशिवरात्रि क्यों मानते है?  हम आपको इन सारी सवालों के जवाब आज के इस  Mahashivratri 2018 || महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है पोस्ट में देनेवाले है.

महाशिवरात्रि कथा – शिवरात्रि का महत्व – महाशिवरात्रि 2018 (Mahashivratri 2018)

इस वर्ष महाशिवरात्रि मंगलवार 13 फेब्रुवारी 2018 के दिन मनाई जाएगी. हिंदु धर्म के कालेंडर के अनुसार एक वर्ष में 12 शिवरात्रियां होतीं हैं. शिवरात्रि प्रत्येक हिंदू महीने की कृष्ण चतुर्दशी, जो कि महीने का अंतिम दिवस होता है. माघ मास की कृष्ण चतुर्दशी को महाशिवरात्री पूरे भारत में भक्ति भाव से मनाई जाती है. ऐसे माना जाता है की महाशिवरात्रि के दिन देवों के देव महादेव और देवी पार्वती का विवाह हुआ था और इसी दिन शिवलिंग प्रकट हुआ था. इसी के साथ और एक मान्यता के अनुसार कहा जाता है की जब समुंद्र-मंथन से विष निकला. उसे भगवान शिव ने दुनिया को बचाने के लिए इसी दिन खुद प्राशन कर लिया था. उसके बाद शिव शारीर का रंग नीला हुआ था और तभी से इसीदिन को महाशिवरात्रि के रूप में मनाया जा रहा है.

शिवरात्रि के दिवस पर शिव भक्त उपवास रखते है और भगवान शिव की पूजा करते है. शिवरात्रि के दिन भक्त शिव के पिंड का अभिषेक करते है. महाशिवरात्रि के दिन लोग भगवान शिव से आशीर्वाद पाने के लिए और जाने-अनजाने मे किए हुए पाप कर्म के लिए क्षमा मांगने के लिए भक्तिपूर्वक पूजा कर के व्रत रखते है. हिंदू धर्म में ऐसा माना जाता है की कुवारी लडकिया और कुंवारे लड़के महाशिवरात्रि के दिन अगर भगवान शिव की पूजा करते है और व्रत रखते है तो उन्हें अच्छा जीवनसाथी मिलता है. साथ में जो व्यक्ति ये महाशिवरात्र व्रत करता हे उसकी दरिद्रता ,रोग,शत्रुजन,बुरा समय ख़त्म हो जाता हे.

Read Also: क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है | Christmas in Hindi

दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आजकी Mahashivratri 2018 || महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है यह पोस्ट आपको पसंद आई है.

हमारे youtube channel को जरुर visit करें.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: