Kuppali Venkatappa Puttappa उर्फ Kuvempu का गूगल डूडल- TopHunt Hindi

Kuppali Venkatappa Puttappa: मित्रों हमारे ब्लॉग पर आने के लिए बहूत बहूत धन्यवाद. आज google ने एक व्यक्ति का बेहतरीन doodle पेश किया है. उस google doodle में दिख रहें व्यक्ति का नाम Kuppali Venkatappa Puttappa उर्फ Kuvempu है. ये कन्नड़ भाषा के महान लेखक और कविं थे. आज हम Kuppali Venkatappa Puttappa in Hindi इस लेख में आपको उनकी जीवनी (biography) बतायेंगे और Google ने अपने Doodle में उन्हें क्यों जगह दी वो भी आपको बतायेंगे.

Kuppali Venkatappa Puttappa

Kuppali Venkatappa Puttappa उर्फ Kuvempu का गूगल डूडल

Read Also: Mirza Ghalib Biography in Urdu/Hindi – गूगल के डूडल में आज मिर्जा ग़ालिब

दोस्तों Kuppali Venkatappa Puttappa 20 वी सदी के कन्नड़ भाषा के महान लेखक और कवी थें. इन्हें कन्नड़ भाषा का ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. कन्नड़ ज्ञानपीठ पुरस्कार पानेवाले सात व्यक्तियों में Puttappa सबसे पहले थे. उनको साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में सन 1958 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था. इनके द्वारा रचित एक महाकाव्य श्रीरामायण दर्शनम् के लिये उन्हें सन् 1955 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया. उन्हें साहित्यिक क्षेत्र में kuvempu इस उपनाम से जाना जाता है. Google ने इस महान साहित्यिक को उनके उनके 113 वें जन्मदिन के दिन बेहतरीन Doodle बनाकर उन्हें याद किया है. Google ने अपने Doodle में दिखाया है की, Kuppali Venkatappa Puttappa एक बड़े पत्थर पर बैठे साहित्य लिख रहे है, उनके पीछे सुंदर प्रकृती को दर्शाया है, उसके साथ Google का कन्नड़ भाषा के अंदाज में सफ़ेद रंग का GOOGLE logo दिखाया है.

Kuvempu की जीवनी – Kuppali Venkatappa Puttappa in Hindi

Read Also: आजका गूगल डूडल: Mohammed Rafi Biography in Hindi

Kuppali Venkatappa Puttappa उर्फ Kuvempu का जन्म  29 दिसम्बर 1904 को कर्नाटक में शिवमोगा जिले के कुपल्ली गाव में एक कन्नड़ परिवार में हुआ था. उनके पिता का नाम Venkatappa Gowda और माँ का नाम Seethamma था. वो जब 12 साल के थे तभी उनके पिता का देहांत हुआ था. उन्होंने 30 अप्रैल 1937 को हेमवती नाम की लड़की से शादी की और मजबूरी से वैवाहिक जीवन में प्रवेश किया था. puttappa के दो बेटे थे, K P purnchandra Tejasvi, Kokilodaya Chaitra और Indukala, Tharini नाम की दो बेटिया भी थी.

Kuppali Venkatappa Puttappa ने अपनी प्राथमिक पढ़ाई घर में ही पूरी की उसके बाद माध्यमिक शिक्षा मैसूर के Wesleyan High School में पूरी की थी. kuvempu ने 1929 में Maharaja College of Mysor में Graduation पूरा किया था. उसके तुरंत बाद उन्होंने  Maharaja College में प्राध्यापक के रूप में नोकरी कर के अपने करिअर की शुरुवात की थी. बाद में 1 9 36 में Central collage, बैंगलोर में सहायक प्रोफेसर के रूप में काम किया और 1946 को फिरसे Maharaja College लौट आये. 1 9 56 में उन्हें मैसूर विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में चुना गया जहां उन्होंने 1 9 60 में सेवानिवृत्ति तक सेवा की है.

Read Also: Homai Vyarawalla biography in Hindi | होमी व्यारावाला

कूवेम्पू ने अपने साहित्यिक काम को अंग्रेजी में शुरू किया, जिसमें कविताओं का संग्रह शुरुआती विचार था लेकिन बाद में अपने मूल कन्नड़ में बदल गया. उन्होंने कन्नड़ को शिक्षा के लिए माध्यम बनाने के लिए आंदोलन का नेतृत्व किया, “मातृभाषा में शिक्षा” विषय पर जोर दिया. कन्नड़ शोध की जरूरतों को पूरा करने के लिए, उन्होंने मैसूर विश्वविद्यालय में कन्नड़ अध्यायन संस्थे (“”Institute of Kannada Studies”) की स्थापना की, जिसे बाद में इसका नाम बदलकर “कुवेम्पु इंस्टीट्यूट ऑफ कन्नड़ स्टडीज” कर दिया गया. मैसूर विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में, उन्होंने विज्ञान और भाषाओं के अध्ययन का बीड़ा उठाया. उन्होंने जी हनुमंत राव के साथ काम करने वालों के लिए ज्ञान के प्रकाशन को चुनौती दी. कुवेम्पू जातिवाद, अर्थहीन प्रथाओं और धार्मिक अनुष्ठान के खिलाफ थे.The Shoodra Tapaswi (“untouchable saint”) जैसे लेखन में कुवेम्पु की इन प्रथाओं के खिलाफ अपनी असंतोष दर्शाती है. श्री रामायण दर्शनम नामक महाकाव्य की वजह से उन्हें प्रतिष्ठित ज्ञानपीठ पुरस्कार दिया गया. उनको साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में सन १९५८ में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था. भारत के इस महान लेखक और कवी मृत्यु 89 साल उम्र में मैसूर में 11 नवंबर 1994 को हुई.

दोस्तों आपको “Kuppali Venkatappa Puttappa उर्फ Kuvempu का गूगल डूडल” ये लेख कैसे लगा हमें comment में जरुर बताये और हमें Facebook, Twitter और Youtube पर follow करें.

Ajinkya Sid

I am interested in writing blogs in Hindi. i passionate about blogging and youtube. i love post writing about technology.

Leave a Reply

Close Menu
%d bloggers like this: